काल सर्प दोष निवारण हेतु अचूक उपाय, मंत्र, पूजा की विधि

कई लोग हमसे ये जानना चाहते हैं की काल सर्प दोष क्या है और यह कितने प्रकार का होता है और इसके प्रभाव यानि लक्षण क्या हैं तो सबसे पहले काल सर्प योग के बारे में जान लें| उसके बाद आपको इसके कारण लक्षण और निवारण के अचूक उपाय, मंत्र और पूजा की विधि के बारे में बताया जाएगा|

क्या हैं काल सर्प दोष या योग?| काल सर्प योग होने का कारण

साधारण शब्दों में काल सर्प दोष एक दोष हैं जो की व्यक्ति के जीवन में कई प्रकार के दुर्भाग्य के लिए जिम्मेदार होता है जिसके फलसवरूप व्यक्ति के जीवन में कई प्रकार की मुश्किलें और रुकावटें आती हैं| आपकी कुंडली और राशी के आधार पर काल सर्प योग अल्पकालिक या दीर्घकालिक यानि आपकी कुंडली में ग्रहों की स्तिथि के आधार पर या कुछ सालों के लिए या पूरी उम्र के लिए हो सकता है| हिन्दू मानयता के अनुसार काल सर्प योग बनने का कारण है पिछले जन्म में किये गए पापों का फल| यानि कुल मिलाकर यह पिछले जनम में किये गए बुरे कर्मों का इस जनम में मिलने वाला फल होता है जो की व्यक्ति के जीवन में कष्ट और दुर्भाग्य लेकर आता है|

काल सर्प दोष के प्रकार और प्रभाव (लक्षण)

काल सर्प दोष मुख्या रूप से १२ प्रकार के होते हैं| निचे हम काल सर्प योग के प्रकार और उसके जातक पर पड़ने वाले प्रभावों के बारे में बताने जा रहे हैं|

Leave a Reply